Friday, April 23, 2010

मौत की तरंगें : एपिसोड - 21


सुंदरम जब सी-आई-डी के चीफ के पास पहुंचा तो उस समय वह किसी फाइल के अध्ययन में लीन था। सुंदरम को देखकर उसने सामने बैठने का संकेत किया।
‘‘क्या हुआ? तुम्हारा केस कहाँ तक पहुंचा?’’

‘‘हत्या का ढंग तो पता चल गया है।’’ सुंदरम ने चीफ को सारी बातें बताते हुए कहा, ‘‘मुझे खोका के बारे में यह जानना है कि उसने सरकार से क्या माँग की थी। पिछली दो हत्याओं की पूरी रिपोर्ट भी चाहिए।’’
‘‘खोका के बारे में अब तक ज्ञात सारी जानकारियाँ तुम्हें एक फाइल में मिल जायेंगी। जो सी-आई-डी- के रिकार्ड रूम में रखी है। वैसे इस बारे में तुमने क्या सोचा है कि दोनों कम्पनियाँ एक जैसे प्रोग्राम बता रही हैं?’’

‘‘इसके कई कारण हो सकते हैं। एक तो यह कि उनमें से एक कंपनी ने दूसरे का प्रोग्राम चुरा लिया है जैसा कि एक कम्पनी दूसरे पर आरोप लगा रही है।’’
‘‘दूसरी बात यह हो सकती है कि किसी तीसरी स्थानीय कंपनी ने दोनों को प्रोग्राम के आईडिये दिये हों और उन आईडियों में से दोनों ने एक ही आईडिया पसंद किया हो। स्थानीय कंपनी मैंने इसलिये कहा क्योंकि भारत की परिस्थितियों के अनुरूप प्रोग्राम बनाने का आईडिया एक स्थानीय कंपनी ही दे सकती है।’’

‘‘यदि तुम्हारी दूसरी बात सही है तो यह भी हो सकता है कि उस स्थानीय कंपनी ने दोनों को समान आईडिया दिया हो। फिर खोका से मिलकर उसने उनमें से एक कंपनी की सीडी बदलकर उसके स्थान पर घातक तरंगों वाली सीडी रख दी हो।’’ चीफ ने कहा।
‘‘यह भी हो सकता है कि एक कंपनी ने दूसरी कंपनी की सीडी चुराकर घातक तरंगों वाली सीडी रख दी हो। मेरा मतलब दोनों विदेशी कंपनियों से है। हों सकता है उनमें से एक का स्वार्थ खोका से सिद्ध होता हो।’’

‘‘हाँ, यह भी संभव है।’’
‘‘इसीलिये मैं यह देखना चाहता हूं कि खोका ने सरकार से क्या माँगें माँगी थीं।’’
‘‘ठीक है। तुम अपने कामों में लगे रहो। और रिपोर्ट तैयार करते रहना। क्योंकि केन्द्रीय कमांडों फोर्स ने भी इस केस की रिपोर्ट माँगी है।’’

‘‘वे इस रिपोर्ट का क्या करेंगे?’’
‘‘हो सकता है ऊपर वालों का उनके ऊपर दबाव पड़ा हो। क्योंकि महत्वपूर्ण व्यक्तियों की सुरक्षा का दायित्व उन्हीं पर रहता है। अत: वे गृहमन्त्री की हत्या के केस की रिपोर्ट अपने रिकार्ड में भी रखना चाहते हों।’’
‘‘ठीक है। मैं रिपोर्ट तैयार करके दे दूंगा। अब मैं चलता हूं।’’ सुंदरम ने उठते हुए कहा।
--------

No comments: